सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश को लेकर केरल हाईकोर्ट ने पिनारई सरकार को आड़े हाथों लेते हुए दे डाली ये बड़ी चेतावनी

0
55
सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश को लेकर केरल हाईकोर्ट ने पिनारई सरकार को आड़े हाथों लेते हुए दे डाली ये बड़ी चेतावनी

This big warning was given by the Kerala High Court to the Pinarai government regarding the entry of women in Sabarimala temple (केरल) : जानकारी के अनुसार आपको याद दिला दे कि ‘केरल’ के ‘सबरीमाला मंदिर’ में 10 से 50 वर्ष की महिलाओं के प्रवेश पर प्रतिबंध है. महिलाओं के प्रवेश को लेकर ‘उच्चतम न्यायालय’ ने फैसला सुनते हुए कहा था कि मंदिर में महिलाओं को प्रवेश करने दिया जाना चाहिए. न्यायालय ने इस फैसले के बाद से लगातार विरोध किया जा रहा है.

सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश को लेकर केरल हाईकोर्ट ने पिनारई सरकार को आड़े हाथों लेते हुए दे डाली ये बड़ी चेतावनी
सबरीमाला मंदिर

सूत्रों की माने तो महिलाओं के प्रवेश का विरोध करने वाले कथित हिंसक प्रदर्शन में शामिल भगवान अयप्पा के भक्तों पर ‘केरल उच्च न्यायालय’ ने जारी ‘पिनारई सरकार’ की कार्रवाई पर सख्त रुख अख्तियार कर चेतावनी देते हुए कहा है कि यदि इस मामले में किसी बेगुनाह की गिरफ्तारी हुई तो सरकार को इसकी बड़ी कीमत चुकानी पड़ेगी. आपको बता दें कि महिलाओं को प्रवेश से रोकने के लिए विरोध प्रदर्शन करने वालों पर कड़ी कार्रवाई करते हुए पुलिस ने अब तक 1400 से अधिक लोगों को गिरफ्तार कर लिया है.

यह भी पढ़े : सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर उच्चतम न्यायालय के फैसले का विरोध!

सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश को लेकर केरल हाईकोर्ट ने पिनारई सरकार को आड़े हाथों लेते हुए दे डाली ये बड़ी चेतावनी
केरल उच्च न्यायालय

ध्यान देने वाली बात यह है कि इस मामले में 440 मुक़दमे दर्ज किए गए हैं. साथ ही 200 से अधिक लोगों के खिलाफ लुकआउट नोटिस भी जारी किया गया है. इसके अलावा दाखिल एक याचिका पर उच्च न्यायालय ने कहा है कि कोई भी गिरफ्तारी इस आधार पर होनी चाहिए कि वह व्यक्ति हिंसक प्रदर्शन में शामिल था या नहीं. दूसरी तरफ रजस्वला महिलाओं को सबरीमाला मंदिर में प्रवेश देने के उच्चतम न्यायालय के फैसले के खिलाफ समीक्षा याचिका दाखिल करने वाले केरल के प्रभावशाली नायर समुदाय ने भी इस कार्रवाई को अनैतिक और अलोकतांत्रिक बताया है.

सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश को लेकर केरल हाईकोर्ट ने पिनारई सरकार को आड़े हाथों लेते हुए दे डाली ये बड़ी चेतावनी
उच्चतम न्यायालय

ध्यान देने वाली यह है कि आगामी 17 नवंबर से शुरू होने वाले त्यौहार ‘मंडलम मकरविलाकु’ को देखते हुए भीड़ नियंत्रण के लिए राज्य के मुख्यमंत्री ‘पिनारई विजयन’ ने 31 अक्तूबर को दक्षिणी राज्यों के देवस्वम मंत्रियों की एक बैठक बुलाई है. जिसको लेकर अधिकारियों ने कहा कि सरकार तिरुपति की तरह डिजिटल कतार प्रणाली लागू करने पर भी विचार कर रही है और इस पर भी चर्चा होगी.