कांग्रेस में शामिल हुआ भ्रष्टाचार करने वाला झारखंड का पूर्व मुख्यमंत्री! कई सालों थ काटी थी जेल की सजा

0
45
कांग्रेस में शामिल हुआ भ्रष्टाचार करने वाला झारखंड का पूर्व मुख्यमंत्री! कई सालों काटी थी जेल की सजा

Former Jharkhand chief minister Madhu Koda joins Congress and he was involved in corruption (नई दिल्ली) : अभी-अभी ‘झारखंड’ से एक चौंका देने वाली खबर सामने आई है. जिसकी चर्चा पूरे देशभर में हो रही है. सूत्रों की माने तो झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री ‘मधु कोड़ा’ कांग्रेस पार्टी में शामिल हो गए हैं. लेकिन हैरानी की बात यह है कि मधु कोड़ा चार हजार करोड़ रुपये के घोटाले के आरोपों में फंस चुके हैं.

कांग्रेस में शामिल हुआ भ्रष्टाचार करने वाला झारखंड का पूर्व मुख्यमंत्री! कई सालों काटी थी जेल की सजा
मधु कोड़ा

सूत्रों की माने तो उनकी जय समानता पार्टी का कांग्रेस में विलय हो गया है. आपको बता दें कि उनकी पत्नी ‘गीता कोड़ा’ पहले ही शामिल हो चुकीं हैं. मधु कोड़ा के कांग्रेस में शामिल होने पर भाजपा ने जमकर हमला बोला है. झारखंड कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष ‘डॉ. अजय कुमार’ ने ‘मधु कोड़ा’ को पश्चिमी सिंहभूम जिले के मुख्यालय चाईबासा में पार्टी की सदस्यता दिलाई. मधु कोड़ा के शामिल होने के बाद कांग्रेस नेता मान रहे हैं कि पूर्व मुख्यमंत्री कोड़ा के आने से पार्टी को झारखंड में मजबूती मिलेगी.

कोड़ा का निर्दलीय विधायक से मुख्यमंत्री बनने का सफ़र  

आपको बता दें कि मधु कोड़ा का सियासी सफर फिल्मी है. उनको पहली चुनावी सफलता 2000 के ‘झारखंड विधानसभा’ के चुनावों में हासिल हुई. तब वे भाजपा उम्मीदवार के रूप में ‘जगन्नाथपुर विधानसभा सीट’ से नेता चुने गए. झारखंड के पहले मुख्यमंत्री ‘बाबूलाल मरांडी’ के नेतृत्व में बनने वाली सरकार में कोड़ा पंचायती राज मंत्री चुने गए. वे 2003 में ‘अर्जुन मुंडा’ की सरकार बनने के बाद भी इसी पद पर काबिज रहे.

कांग्रेस में शामिल हुआ भ्रष्टाचार करने वाला झारखंड का पूर्व मुख्यमंत्री! कई सालों काटी थी जेल की सजा
डॉ. अजय कुमार

वर्ष 2005 के विधानसभा चुनावों में उन्हें भाजपा द्वारा उम्मीदवार बनाने से इंकार कर दिया. जिसके बाद मधु कोड़ा ने एक निर्दलीय के रूप में उसी विधानसभा सीट से चुने गए. खंडित जनादेश की वजह से कोड़ा ने भाजपा के नेतृत्व में बनी ‘अर्जुन मुंडा’ की सरकार का बाहर से समर्थन किया. सितंबर 2006 में कोड़ा और अन्य तीन निर्दलीय विधायकों ने मुंडा की सरकार से अपना समर्थन वापस ले लिया, जिससे सरकार अल्पमत में आ गई.

यह भी पढ़े : मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस में एक बार फिर से मचा घमासान!

बाद में संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन ने उन्हें मुख्यमंत्री के रूप में स्वीकार कर अपनी सरकार बनाई, जिसमें झामुमो, राजद, यूनाइटेड गोअन्स डेमोक्रैटिक पार्टी, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी, फॉरवर्ड ब्लॉक, तीन निर्दलीय विधायक शामिल थे। कांग्रेस ने उन्हें बाहर से समर्थन दिया. उधर जब घोटाले में फंसे तो  मुख्यमंत्री की कुर्सी चली गई और जेल भी जाना पड़ा.

कांग्रेस में शामिल हुआ भ्रष्टाचार करने वाला झारखंड का पूर्व मुख्यमंत्री! कई सालों काटी थी जेल की सजा
अर्जुन मुंडा

सूत्रों की माने तो मधु कोडा की पत्नी ‘जगन्नाथपुर विधानसभा’ क्षेत्र से विधायक ‘गीता कोड़ा’ भी पहले ही कांग्रेस का दमन थाम चुकी हैं. आपको याद दिला दें कि इसी महीने नई दिल्ली में गीता कोड़ा कांग्रेस अध्यक्ष ‘राहुल गांधी’ की मौजूदगी में कांग्रेस से जुड़ी थीं. गीता कोड़ा झारखंड के जगन्नाथपुर विधानसभा क्षेत्र से निर्दलीय विधायक हैं.

सूत्रों के अनुसार वह 2014 में लगातार दूसरी बार राज्य विधानसभा के लिए चुनी गई थीं. इससे पहले इस विधानसभा क्षेत्र से उनके पति मधु कोड़ा 2005 में विधायक चुने गये थे और 2006 में वह कांग्रेस, राजद एवं झामुमो के समर्थन से राज्य के मुख्यमंत्री चुने गए थे. ध्यान देने वाली बात यह है कि मधु कोड़ा करीब दो वर्ष तक मुख्यमंत्री रहे थे और इस दौरान उन पर विभिन्न मामलों में चार हजार करोड रुपये का घोटाला करने के आरोप साबित हुए थे. इस मामलों में उनको जेल जाना पड़ा.

कांग्रेस में शामिल हुआ भ्रष्टाचार करने वाला झारखंड का पूर्व मुख्यमंत्री! कई सालों काटी थी जेल की सजा
गीता कोड़ा

यही कारण रहा था कि वह जमानत न मिलने की वजह से करीब तीन वर्ष तक जेल की सलाखों के पीछे रहे. मधु कोड़ा के खिलाफ भ्रष्टाचार के अनेक मामले अभी भी विभिन्न अदालतों में दर्ज हैं .गीता कोड़ा ने आश्चर्यजनक रूप से कुछ माह पूर्व हुए राज्य सभा के लिए द्विवार्षिक चुनाव में ‘भाजपा’ का समर्थन किया था.