महिलाओं को कभी नहीं करनी चाहिए ये बड़ी गलती! हो सकती है भयंकर बीमारी…

0
123

Women should never have this big mistake! Can be a fatal disease (3 दिसंबर, 2018) : अक्सर हम देखते हैं कि भागदौड़ भरी जिंदगी में अधिकतर लोग सुबह का बचा हुआ बासी खाना रात के समय खाते हैं. कई बार ऐसा भी होता है कि एक समय खाना बनाकर वह दूसरे टाइम भी उसी सब्जी से काम चलाते हैं. इस काम को महिलाओं के साथ अधिक देखने को मिलता है. यदि आप भी इस प्रकार करती हैं तो सावधान हो जाइये, क्योंकि अगर आप भी सुबह के बचे खाने को रात में या रात के खाने को सुबह खा रही हैं तो आपको ये गंभीर बीमारी हो सकती है.

महिलाओं को कभी नहीं करनी चाहिए ये बड़ी गलती! हो सकती है भयंकर बीमारी...

स्वास्थ्य विशेषज्ञों की जानकारी के अनुसार भारतीय लड़कियों में सुस्त जीवनशैली और बासी भोजन खाने की आदतों के कारण उनमें ‘पोलीसिस्टिक ओवेरियन सिंड्रोम’ (पीसीओएस) फैलने की संभावना बढ़टी जा रही है. आइये जानते हैं  क्या होती है पोलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम.

पोलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम

स्वास्थ्य विशेषज्ञों की माने तो पीसीओएस में लड़कियों या महिलाओं की ओवरी में प्रत्येक माह जरूरत से ज्यादा अंडे बनने लगते हैं. मेंस्ट्रुअल साइकल बिगड़ने के कारण ओवरी में एक्स्ट्रा अंडे एकत्र हो जाते हैं जो सिस्ट के रूप में बन जाते हैं. हालांकि जिन महिलाओं को इस दिक्कत का सामना करना पड़ता है उनको दवाई पर निर्भर रहना पड़ता है.

महिलाओं को कभी नहीं करनी चाहिए ये बड़ी गलती! हो सकती है भयंकर बीमारी...

ध्यान देने वाली बात यह है कि इस सिस्ट को ऑपरेशन करवाकर इससे छुटकारा मिल सकता है, परन्तु ये सिस्ट दोबारा बन जाते हैं. इससे शरीर और चेहरे पर अनचाहे बाल, अनियमित पीरियड्स और मुंहासों की शिकायत होने लगती है.

यह भी पढ़े : अगर आप भी मूली का सेवन के समय करते हैं इन चीजों का इस्तेमाल तो हो जाइए सावधान

एक बार जो इस बीमारी का शिकार हो जाता है उसे हमेशा दवाइयों पर निर्भर रहना पड़ता है. इस बीमारी के होने के कुछ समय बाद इंसुलिन के प्रति रेजिस्टेंस भी पैदा हो जाती है, जिससे ‘डायबिटीज’ और फिर ‘हाई ब्लड प्रेशर’ का खतरा बढ़ सकता है.

महिलाओं को कभी नहीं करनी चाहिए ये बड़ी गलती! हो सकती है भयंकर बीमारी...

इसके अलावा विशेषज्ञों का यह भी मानना है कि अगर आप इससे बचना चाहते हैं तो अधिक मात्रा में बासी खाना और जंक फूड खाना बंद कर दें. इसका सेवन की जगह डाइट में हेल्दी फूड शुरू करें. इसके साथ फिजिकल एक्टिविटी को भी बढ़ावा दें. रोजाना एक्सरसाइज, खेलकूद, स्विमिंग या डांसिंग पर फोकस करें. लंबे समय तक कंप्यूटर के सामने बैठना एवॉइड करेें.