भगवान हनुमान जी को इस प्रकार पूजा-अर्चना कर करें प्रसन्न! पूरी होगी हर मनोकामना

0
69
भगवान हनुमान जी को इस प्रकार पूजा-अर्चना कर करें प्रसन्न! पूरी होगी हर मनोकामना

Please worship Lord Hanuman ji in this way! Every wish will be fulfilled (30 नवंबर, 2018) : हिन्दू मान्यताओं के अनुसार ‘हनुमान जी’ को आज भी ‘पृथ्वी’ पर विचरण करते हैं. मान्यता यह भी है कि हनुमान जी एकमात्र कलयुग के जीवित देवता हैं. हनुमान जी बहुत जल्द प्रसन्न होने वाले भगवान हैं और जो भी भक्त अच्छे मन से पूजा-अर्चना करता है उसकी हर मनोकामना अवश्य पूर्ण होती हैं. हनुमान जी के कई नामों में से एक विशेष नाम संकटमोचन भी है. जो भक्त संकटमोचन नाम का जप करता है उसके सारे संकट दूर हो जाते हैं.

भगवान हनुमान जी को इस प्रकार पूजा-अर्चना कर करें प्रसन्न! पूरी होगी हर मनोकामना
भगवान हनुमान

सतझ ही जो भक्त हर सोमवार को ‘शिवलिंग’ पर बेलपत्र और जल चढ़ाता है उसके जीवन में हर कार्य की सफलता मिलती है. 

जो हनुमान भक्त हर मंगलवार को व्रत और हनुमान जी की विशेष प्रकार से पूजा-आराधना करता है, वह हमेशा सुखी रहता है. 

जिस किसी के भी घर में नियमित रूप से हनुमान चालीसा, बजरंग बाण, सुंदरकांड और रामचरितमानस का पाठ होता है, उस घर में सदैव हनुमान जी की कृपा बनी रहती है.

भगवान हनुमान जी को इस प्रकार पूजा-अर्चना कर करें प्रसन्न! पूरी होगी हर मनोकामना

मान्यता के अनुसार मंगलवार के अलावा शनिवार का दिन भी हनुमान जी का माना जाता है. भगवान ‘शनि देव’ को बजरंगबली ने युद्ध में पराजित किया था. तो उस समय शनि देव ने हनुमान जी को आशीर्वाद देते हुए कहा था कि जो व्यक्ति शनिवार के दिन हनुमान जी की पूजा करेगा उसे शनि की बुरी नजर नहीं लगेगी. यही कारन है कि प्रत्येक शनिवार को मंदिर जाकर संकटमोचन बजरंगबली के दर्शन अवश्य करना चाहिए.

यह भी पढ़े : भगवान शिव के इस मंदिर में हुई 20 हजार अखरोटों की वर्षा!

जो भक्त हनुमान जी की पूजा में तुलसी के पत्तों का उपयोग करता है उसके जीवन में उसे सुख, समृद्धि, वैभव और तरक्की प्राप्त होती है.

भगवान हनुमान जी को इस प्रकार पूजा-अर्चना कर करें प्रसन्न! पूरी होगी हर मनोकामना
भगवान शनि देव

जब संकट की स्थिति आती है तो ऐसे समय में जो भक्त हनुमान नाम का जप करता है उसकी सभी परेशानियां समाप्त हो जाती हैं. जो हनुमान भक्त नियमित हनुमान चालीसा का पाठ करता है बजरंगबली उस पर हमेशा अपनी कृपा बनाए रखते हैं. हनुमान चालीसा का पाठ पढ़ने और सुनने से बल, बुद्धि और विद्या की जागृति होती है.